80 हजार में हुई थी बैंककर्मी अमितेश की हत्या

फुलवारीशरीफ। बेउर थाना क्षेत्र से गिरफ्तार रंजीत उर्फ बिट्टू, राहुल उर्फ बिट्टू और साहिल ने राजधानी के कई थानों में लूट व हत्या की वारदात को अंजाम दिया है। कोतवाली थाना क्षेत्र में विकलांग बैंककर्मी की हत्या भी इसने ही 80 हजार रुपये में की थी। नौकरी के नाम पर रुपये लेने के बाद जब बैंककर्मी ने नौकरी नहीं दी और रुपये भी नहीं लौटाया तो बैंककर्मी की हत्या कर दी। इसका खुलासा बुधवार को डीएसपी ममता कल्याणी व थानाध्यक्ष अजय कुमार ने पूछताछ में किया।

उन्होंने बताया कि रंजीत उर्फ बिट्टू मार्बल व्यापारी है। राहुल व साहिल इसके साथ हैं। ये सभी कई बार पैसा लेकर गोलीबारी व हत्या की घटना को अंजाम दिया है। बदमाशों ने स्वीकार किया है कि कोतवाली थाना क्षेत्र में ओवरब्रिज पर विकलांग बैंककर्मी अमितेश कुमार की हत्या रुपये लेकर किया था। हत्या करवाने के लिए रुपये देने वाले का भी नाम भी इन लोगों ने पुलिस को बता दिया है। मगर पुलिस नाम को गुप्त रख कार्रवाई कर रही है। उन्होंने बताया कि अमितेश ने नौकरी दिलाने के नाम पर रुपये ले रखा था। जब नौकरी नहीं हुई तो वह रुपये भी नहीं लौटा रहा था। 80 रुपये उसे इसकी अमितेश की हत्या करने के लिए मिली थी। रुपये रंजीत और साहिल ने लिया था।

इन लोगों ने ही आरक्षी सुरेश के पुत्र रवि की हत्या की थी। आरक्षी पुत्र रवि ने रंजीत से आठ लाख रुपये ले रखा था जिस वह लौटा नहीं रहा था। इस कारण उसकी हत्या रंजीत ने करवा दी।

वहीं पुलिस को जानकारी मिली है कि रंजीत ने एक युवती की भी हत्या करवाई है। युवती से पहले उसका प्रेम प्रसंग था और जब वह शादी का दबाव बनाने लगी तो उसकी हत्या उसने गला दबा कर दी। पुलिस इस मामले को पड़ताल कर रही है।

कमेंट करें

Web Title:

(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

Source Article from http://www.jagran.com/bihar/patna-city-12048315.html

Leave a Reply

Your email address will not be published.