सुकमा में शहीद के परिजनों को राहत, बच्चों को मुफ्त पढ़ाएगा सेंट्रल स्कूल – Hindustan हिंदी

छत्तीसगढ़ के सुकमा में 24 अप्रैल को हुए नक्सली हमले में शहीद सीआरपीएफ जवान रंजीत कुमार के बच्चों को केंद्रीय विद्यालय, लखीसराय पढ़ाएगा। केवि प्रबंधन ने शहीद के परिजनों से मिलकर बच्चों के नामांकन का प्रस्ताव दिया, जिसे शहीद की पत्नी ने स्वीकारा है।

प्रबंधन ने शिक्षक अनंत कुमार को विद्यालय में नामांकन का प्रस्ताव लेकर शहीद के घर शेखपुरा के फूलचौडगढ़ अरियरी भेजा था। प्राचार्य सत्यनारायण मीणा ने बताया कि शहीद की विधवा सुनीता देवी ने प्रस्ताव स्वीकार करते हुए नामांकन की अनुमति भी दे दी है। उन्होंने कहा कि शहीद के परिजनों की हरसंभव मदद की जाएगी।

बच्चों के नामांकन से लेकर पढ़ाई पूरी होने तक जो भी मदद की जरूरत होगी, विद्यालय प्रबंधन उसे पूरा करेगा। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय विद्यालय शिक्षा देने के साथ समाज के रचनात्मक कार्यों में भी अपनी अहम भूमिका निभाता है। यह शहीद रंजीत कुमार के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भी ली है पढ़ाई की जिम्मेदारी

मालूम हो कि टीम इंडिया के स्टार क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भी सुकमा में शहीद हुए जवानों के बच्चों की पढ़ाई का जिम्मा लिया है। उन्होंने पिछले दिनों ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी दी थी। क्रिकेटर की इस घोषणा पर शहीद की पत्नी सुनीता देवी व शहीद की मां मानो देवी और पिता इंद्रदेव यादव ने उन्हें दुआ देते हुए कहा था कि क्रिकेटर गौतम गंभीर हमारे लिए साक्षात भगवान के रूप में मदद करने के लिए आये हैं।

नक्सलियों के हमले में शहीद हुए थे रंजीत

24 अप्रैल सोमवार को छत्तीसगढ़ के सुकमा में हुए माओवादी हमले मे मारे गए जवानों में शेखपुरा का जवान रंजीत भी शामिल था। इस हमले में सीआरपीएफ के 25 जवान शहीद हो गए थे, जिनमें सूबे के छह जवान शामिल थे। शहीदों में दानापुर के सौरभ कुमार, लोमा (वैशाली) के अभय कुमार, सासाराम (चेनारी) के कृष्ण कुमार पांडेय, अरियरी (शेखपुरा) के रंजीत कुमार, अहिला (दरभंगा) के नरेश यादव, कौंरा (भोजपुर) के अभय मिश्र शामिल थे।

Source Article from http://www.livehindustan.com/news/bhagalpur/article1-lakhisarai:-Central-school-will-provide-free-schooling-for-child-of-martyrs-of-Sukma-819885.html

Leave a Reply

Your email address will not be published.