रेलवे ढाला निर्माण के लिए करना पड़ेगा तीन महीने इंतजार – Hindustan हिंदी

छपरा-थावे रेलखंड के दिघवा दुबौली से लेकर थावे तक आमान परिवर्तन के दौरान जितने भी रेलवे ढाला का निर्माण अब तक पूर्ण नहीं हो सका है उसके निर्माण के लिए अभी लोगों को अगले तीन महीने तक इंतजार करना पड़ेगा। तीन महीने के बाद जब राशि आवंटन की संभावना है। उसके बाद ही निर्माण कर पूर्ण होगा। पीडब्लूआई सिधवलिया के अनुसार आमान परिवर्तन के दौरान ही इस रेलखंड के दिघवा दुबौली से लेकर थावे तक सभी ग्रामीण व मुख्य रेलवे ढाला का निर्माण कर दिया गया है। लेकिन हकीकत यह है कि दिघवा दुबौली से लेकर थावे तक ऐसे दर्जनों रेलवे ढाला आधे-अधूरे हैं। रेलवे ढाला पर कहीं मिट्टी तो कहीं पत्थर उखड़ कर सड़क पर आ गए हैं। जिस पर लोग गिर कर जख्मी हो गए। उधर, रेलवे स्टेशन पहुंच पथ का भी हाल खस्ता है। दिघवा दुबौली से लेकर थावे तक ऐसे कोई रेलवे स्टेशन पहुंच पथ नहीं है । निरीक्षण कर ठिकेदार को दी गई थी हरी झंडीछपरा-थावे रेलखंड पर आमान परिवर्तन का कार्य कर रही कंस्ट्रक्शन कंपनी को रेलवे के अधिकारियों ने कार्य पूर्ण होने के बाद निरीक्षण कर कार्य शत प्रतिशत पूर्ण करने की हरी झंडी दी थी। इन कार्यों में रेलवे के आमान परिवर्तन कार्य के अलावे ढ़ाला का पूर्ण निर्माण, स्टेशन पहुंच पथ के पूर्ण निर्माण के अलावे स्टेशन पर यात्री सुविधा आदि शामिल थे। इन-इन रेलवे ढाला का नहीं हुआ है निर्माणछपरा-थावे रेलखंड के दिघवा दुबौली से लेकर थावे जंक्शन तक रेलवे ढ़ाला की बात करें तो अब तक रतनसराय मांझा मुख्य पथ के नवादा रेलवे ढाला, भटवलिया रेलवे ढाला, इमिलिया रेलवे ढाला, मांझागढ़ व गोपालगंज के जगन्नाथा ग्रामीण रेलवे ढाला सहित दर्जनों रेलवे ढाला पर आधा अधूरा काम कर छोड़ दिया गया है। वहीं स्टेशन पहुंच पथ को देखे तो दिघवा दुबौली, सिधवलिया, रतनसराय, मांझागढ़, गोपालगंज तथा थावे स्टेशनों पर पहुंचने वाले पथों का हाल खस्ता है। उधर, दिघवा दुबौली स्टेशन से लेकर थावे के बीच पड़ने वाले रेलवे हाल्ट पहुंच पथ का भी हाल भी दयनीय है। कहते हैं अधिकारीछपरा-थावे रेलखंड के दिधवा दुबौली स्टेशन से लेकर थावे जंक्शन तक पड़ने वाले रेलवे ढाला का निर्माण आमान परिवर्तन के दौरान ही कर लिया गया है। कार्य पूर्ण होने के बाद सभी रेलवे ढालों का निरीक्षण भी किया गया था। इसके बाद भी जिन रेलवे ढाला का निर्माण नहीं हो सका है उसका निर्माण मेन्टेनेंस की राशि मिलने के बाद कर दिया जायेगा। केएम सिंह, पीडब्लूआई सेक्शन सिधवलिया

Source Article from http://www.livehindustan.com/bihar/gopalganj/story-railways-will-have-to-wait-for-three-months-1619304.html

Leave a Reply

Your email address will not be published.