बिहार के इस गांव में 100 मीटर दूर जाने के लिए करनी पड़ती है 9 किमी की यात्रा – दैनिक जागरण

बिहार के इस गांव में 100 मीटर दूर जाने के लिए करनी पड़ती है 9 किमी की यात्राबिहार के इस गांव में 100 मीटर दूर जाने के लिए करनी पड़ती है 9 किमी की यात्रा

सीतामढ़ी [जेएनएन]। सीतामढ़ी जिले जानीपुर गांव में लोगों को 100 मीटर दूर जाने के लिए करीब 9 किलोमीटर की यात्रा करनी पड़ती है। इसके पीछे की वजह है सड़क का अधूरा निर्माण। यदि 100 मीटर सड़क बन जाये तो लोगों को इतनी लंबी दूरी की यात्रा नहीं करनी पडेंगी। समय और धन दोनों की बचत होगी।

जिले में स्थापित एक मात्र इंजीनियरिंग कॉलेज जाने के लिए सौ मीटर सड़क नहीं बनी है। इस कारण ग्रामीणों एवं कॉलेज के छात्रों को नौ किमी की दूरी मापनी पड़ती है। पांच वर्ष पूर्व जानीपुर गांव में तत्कालीन सूचना एवं विज्ञान प्रौद्योगिकी मंत्री शाहिद अली खान ने इंजीनियरिंग कॉलेज की स्वीकृति दी थी। इसका शिलान्यास मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया।

कॉलेज बना और पढाई भी शुरू हो गई। सड़क भी बनी। लेकिन, बेलमोहन से जानीपुर जाने के रास्ते में पुल के बाद महज सौ मीटर सड़क नहीं बन सकी। कारण जमीन निजी है और भूस्वामी सड़क के लिए जमीन दान में देने को तैयार नहीं हैं।

भूस्वामी शशिभूषण मिश्रा का कहना है कि वह मेरी निजी जमीन है। सरकार यदि अधिग्रहित करके मुआवजा देती है तो जमीन देंगे, अन्यथा नहीं। सामाजिक कार्यकर्ता सुरेश मिश्र कहते हैं कि पुपरी स्टेशन से जानीपुर आने के लिए बेलमोहन होते हुए ग्रामीण विकास विभाग से तीन किमी सड़क का निर्माण हुआ।

पुल के बाद सौ मीटर में मामला फंस गया। पगडंडी के सहारे पैदल और साइकिल सवार गुजर जाते हैं। लेकिन, वाहनों के आवागमन का मार्ग नहीं है। अभी पुपरी से बिरौली खोपी होकर या फिर पुपरी से यदुपट्टी बहेरा नानपुर होते हुए जानीपुर आना पड़ता है। इस रास्ते की दूरी नौ किमी हो जाती है। निदान के लिए ग्रामीणों के स्तर से कई बार प्रयास हुए। परंतु, सफलता नहीं मिली। ग्रामीण अशोक पासवान कहते हैं कि यदि सड़क बन जाती तो काफी सहूलियत होती।

सौ मीटर में सड़क निर्माण नहीं होने से इस गांव के लोगों को पुपरी जाने-आने में काफी दूरी तय करनी पड़ती है। पंचायत की राशि से सड़क बनाने का प्रयास किया था। तकनीकी एवं प्रशासनिक व्यवधान के कारण नहीं बना सके। ग्राम सभा से इस सड़क निर्माण का प्रस्ताव पारित कर प्रखंड कार्यालय एवं जिला प्रशासन को सूचित कर सड़क निर्माण की मांग की थी। लेकिन, अभी तक निर्माण नहीं हो सका। सौ मीटर सड़क के लिए मात्र चार डिसमिल जमीन की जरूरत है। ऐसे में यह जरूरी है कि सरकारी स्तर पर जमीन का अधिग्रहण कर सड़क निर्माण की बाधा दूर की जाए।

-अखिलेश कुमार कुन्नू, मुखिया, जानीपुर।

यह भी पढ़ें: दिलचस्प प्रेम कहानी: मजहबी दीवार को लांघ, थामा तलाकशुदा युवती का हाथ

जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया जारी है। यथाशीघ्र अधिग्रहण कर लिया जाएगा और सड़क निर्माण में उत्पन्न बाधा को दूर कर लिया जाएगा।

-अशोक कुमार यादव, अंचलाधिकारी, नानपुर।

यह भी पढ़ें: गर्लफ्रेंड को लेकर हुआ विवाद, राजधानी पटना में घर में घुसकर मारी गोली

Source Article from http://www.jagran.com/bihar/sitamarhi-people-of-sitamarhi-travel-9-kilometer-to-go-only-100-meter-far-16042556.html

Leave a Reply

Your email address will not be published.