बाधा मुक्त चिकित्सा सेवा को तैनात किए गए एसडीएसएफ – Hindustan हिंदी

डुमरा स्थिति आरएस उत्सव पैलेस परिसर से सोमवार को नगर के चिकित्सकों ने मरीजों को बाधा मुक्त चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए नव गठित सीतामढ़ी डाक्टर्स सिक्योरिटी फोर्स की सेवा प्रारंभ करायी। लोक अभियोजक अरुण कुमार सिंह, जदयू जिलाध्यक्ष मो. ज्याउद्दीन खान, आईएमए के अध्यक्ष डा युगल किशोर प्रसाद व नव गठित फोर्स के संयोजक डा एसके वर्मा आदि ने संयुक्त रूप से हरी झंडी दिखाकर उसे क्लिनीकों की सुरक्षा के लिए रवाना किया। इस अवसर पर पीपी ने कहा कि जब चिकित्सक सुरक्षित और भय मुक्त रहेगें तभी मरीजों का इलाज सही ढंग से कर सकेंगे। आये दिन छोटी छोटी बातों पर क्लीनिक में तोड़फोड़ तथा चिकित्सक पर हमला हो जाता है और इसका खामियाजा मरीजों को ही भुगतना पड़ता है। इस फोर्स की तैनाती इसप्रकार की घटनाएं रुकेंगी और चिकित्सक भयमुक्त हो अपने कर्त्तव्यों क निर्वहन कर सकेंगे। जदयू जिलाध्यक्ष ने कहा कि राज्य सरकार सबको सुरक्षा देने के लिए कृतसंकल्पित है। किन्तु चिकित्सकों का यह फोर्स आपतकाल मे फर्स्ट ऐडके रुपमें काम आएगा और चिकित्सक वेफिक्र होकर अपना काम कर सकेंगे। संयोजक डा वर्मा ने कहा इस व्यवस्था से वे लोग अब भयमुक्त होकर पीडित मानव की सेवा कर सकेंगे। सचिव डा जयशंकर प्रसाद ने कहा कि सेवा देने वाला फोर्स बिहार सरकार के गृह विभाग से मान्यता प्राप्त कैच सिक्योरिटी र्सिवस के वफादार जवान हैं। कार्यक्रम का संचालन संस्था के अध्यक्ष डा निर्मल कुमार गुप्ता ने किया वक्ताओं ने कहा कि यह यह फोर्स शहर के 51 डाक्टरों तथा 80 क्लीनिकों फील वक्त आपातकाल में सुरक्षा प्रदान करेगा। इस अवसर पर डा सीताराम प्रसाद सिंह डा एम ठाकुर, डॉ एमबी सिंह, डा सीबी प्रसाद, डा आरके प्रकाश डा रघुनाथ प्रसाद, डा आलोक कुमार, डा वरूण कुमार, डा लता गुप्ता डा प्रतिमा आनंद, डा एसके भवसिका, डा राजन पान्डेय व संस्था के कोषाध्यक्ष डा राजेश कुमार सुमन आदि ने अपने विचार व्यक्त किए।

Source Article from http://www.livehindustan.com/bihar/sitamarhi/story-sdsf-deployed-handicapped-medical-service-1589304.html

Leave a Reply

Your email address will not be published.