झमाझम बारिश से सड़कें हुई जलमग्न – दैनिक जागरण

मधेपुरा। आंधी के साथ हुई बारिश की वजह से शहर के मोहल्लों में मंगलवार को जलजमाव की समस्या उत्पन्न हो गई। जलजमाव से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। मंगलवार की सुबह तेज हवा के झोंके के साथ झमाझम बारिश हुई। करीब आधे घंटे तक हुई झमाझम बारिश से कई ग्रामीण इलाकों में जलजमाव की समस्या बन गई।

बेमौसम बारिश को लेकर कृषि विज्ञान केंद्र कृषि वैज्ञानिक डॉ. आरपी शर्मा ने बताया कि लगातार हो रही बारिश व आंधी व तूफान से किसानों का काफी नुकसान हुआ है। आंधी की वजह से आम व लीची फसल को खासा नुकसान हुआ है। वहीं मूंग के खेत में लगातार पानी जमा रहने की वजह से मूंग की खेती काफी प्रभावित हुई है। वहीं कृषि विभाग के अधिकारी ने बताया कि पिछले माह में आंधी बारिश से किसानों को हुए नुकसान को लेकर सर्वेक्षण कराया गया है। जल्द ही प्रभावित किसानों को विभाग की ओर से मुआवजा दिलाया जाएगा।

बिहारीगंज में मंगलवार की सुबह तेज हवा के साथ आई बारिश से बिहारीगंज बाजार सहित ग्रामीण क्षेत्रों की कई सड़कों पर जलजमाव से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं किसान भी परेशान नजर आ रहे हैं। किसानों की माने तो खेत से कटा मक्का के लिए बारिश नुकसानदायक साबित हो रहा है। मुख्य बाजार के जवाहर चौक, गुदड़ी बाजार, दुर्गास्थान रोड एवं अन्य कई सड़कों पर जल जमाव होने से राहगीरों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिस वजह से व्यवसाय प्रभावित हो रहा है। इस समस्या से व्यवसायी वर्ग भी परेशान दिख रहे है।

व्यवसायियों का कहना है प्रशासनिक पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधियों की उदासीनता की वजह से नाला जाम के कारण सड़कों पर जल जमाव बड़ी समस्या बनती जा रही है। वहीं बिहारीगंज-सरौनी-ग्वालपाड़ा पथ पर बेलाही के समीप मुख्य सड़क पर जल-जमाव राहगीरों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। जिस कारण दो पहिया वाहन चालक कई बार गंदे पानी में गिरते नजर आते है। ग्रामीणों का कहना है कि नाला के आभाव के कारण सड़क पर जल-जमाव के वजह से पैदल चलने में भी काफी परेशानियां होती है। इस संदर्भ में मुखिया रणधीर मेहता का कहना है कि ग्रामीणों के साथ इस समस्या के निदान के लिए विधायक निरंजन मेहता से वार्ता की गई है।

Source Article from http://www.jagran.com/bihar/madhepura-rain-in-madhepura-15995397.html

Leave a Reply

Your email address will not be published.