जान पर बन आई सास के साथ मोहब्बत में

पटना : प्रेम प्रसंग के मामले तो कई प्रकाश में आ चुके हैं, पर यह दिलचस्प है। पुलिस भी परेशान है। बात ही कुछ ऐसी है। एक युवक को अपनी सास से ही प्यार हो गया। चार से वह साथ में रह रही है। बेटी ने भी मौन साध लिया, तीनों साथ रहने लगे। खुलासा न होता। बेटा यानी युवक का साला दो दिन पहले आया और मारपीट कर मां को ले गया। यह बात युवक बर्दाश्त न कर सका। पत्नी को भी मायके छोड़ आया। दो दिन से साले को मोबाइल पर गाली-गलौच कर रहा था। तंग आकर उसने मोबाइल बंद कर लिया। कहीं से वापसी का चारा न देख युवक ने शनिवार को कीटनाशक खा सुसाइड की कोशिश की। पड़ोसी लेकर नर्सिग होम भागे। पुलिस को सूचना मिली। बयान के बाद राज खुला। अब पुलिस परेशान, आखिर किस पर करे मामला दर्ज?

निजी नर्सिग होम में इलाज करा रहे युवक से पूछताछ करने जब शास्त्रीनगर थाना पुलिस पहुंची, तो सास-दामाद के इश्क की बात सामने आई। पुलिस अधिकारी ने बताया कि दो दिन पहले बेटा अपनी मां को मारपीट कर ले गया था, जिसके बाद युवक ने जान देने की कोशिश की। वह बार-बार अपने बयान में एक ही बात कह रहा है कि उसके सामने उसके साले ने सास की पिटाई की, जो उसे नागवार गुजरा। युवक के अभिभावक ने बताया कि चार वर्ष पूर्व ही वह अपनी सास को पटना लेकर आ गया था। उस वक्त भी उसके ससुर ने मनेर थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई थी। तब से वह सास और पत्नी के साथ एक साथ रहता है। सास-दामाद दोनों एक संस्थान में नौकरी करने लगे थे। मामला कोर्ट भी पहुंचा था। आज फिर फोन कर साले को गाली-गलौज की थी। कीटनाशक पीने के बाद मकान में रह रहे लोगों ने निजी नर्सिग होम में भर्ती करा दिया। बाद में अन्य रिश्तेदार वहां पहुंचे, तब जाकर उसकी जान बची। शास्त्री नगर पुलिस भी इस मामले को लेकर परेशान है। आखिर वह किस पर मामल दर्ज करे? सास, साला अथवा पीडि़त युवक पर?

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

 

Source Article from http://www.jagran.com/bihar/patna-city-10901458.html

Leave a Reply

Your email address will not be published.