जदयू विधायक ने कहा- अब राजद से गठबंधन तोड़ दें नीतीश, बीजेपी में ठीक थे

जदयू विधायक ने कहा- अब राजद से गठबंधन तोड़ दें नीतीश, बीजेपी में ठीक थेजदयू विधायक ने कहा- अब राजद से गठबंधन तोड़ दें नीतीश, बीजेपी में ठीक थे

पटना [जेएनएन]। जेडीयू के विधायक श्याम बहादुर सिंह ने कहा है कि अब राजद से गठबंधन तोड़ लेना चाहिए। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पूछा कि वो अाखिर कबतक दबाव में काम करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि अब तेजस्वी ने इस्तीफा नहीं दिया है तो उन्हें तुरत बर्खास्त कर देना चाहिए।

विधायक ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि नीतीश कुमार के ऊपर हमेशा लालू यादव दबाव बनाते रहते हैं। वो ट्रांसफर पोस्टिंग का दबाव हो या कुछ और दबाव, नीतीश कुमार आखिर कबतक एेेसे दबाव में काम करते रहेंगे। मेरा वश चले तो मैं आज और अभी राजद का साथ छोड़ दूं।

उन्होंने बड़ा बयान देते हुए कहा कि हम बीजेपी के साथ गठबंधन में थे तो ठीक थे, सरकार इतने दबाव में काम नहीं करती थी। आज नीतीश के बगल में बच्चे बैठे रहते हैं यह देखकर अच्छा नहीं लगता।

दरअसल, बिहार में महागठबंधन एक मुश्किल दौर से गुजर रहा है, इस बात के संकेत साफ दिखने लगे हैं।एनडीए के राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को नीतीश ने अपना समर्थन दिया और उसके बाद उन्होंने  साफ कर दिया कि वो अपना फैसला बदलने वाले नहीं हैं। 

उसके बाद उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बिना नाम लिए ही अपने दिल की बात में नीतीश पर परोक्ष रूप से छींटाकशी की जो जेडीयू को नागवार गुजरा और इसके बाद बिहार ईकाई के अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने महागठबंधन के भविष्य पर ही सवाल खड़ा कर दिया।

उसके बाद बिहार में लालू प्रसाद के ठिकानों पर छापेमारी और उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव के खिलाफ सीबीआई केस दर्ज होने के बाद तेजस्वी के इस्तीफे को लेकर राजद और जदयू के बीच की खटास और बढ़ गई है और महागठबंधन अभी मुश्किल दौर से गुजर रहा है।

एक ओर राजद जिद पर अड़ा है कि किसी हाल में तेजस्वी इस्तीफा नहीं देंगे, वहीं जदयू नेताओं को अपने मुखिया नीतीश कुमार की छवि प्यारी है। नीतीश कुमार ने कभी भ्रष्टाचार को बर्दाश्त नहीं किया है और जो भी भ्रष्टाचार के आरोपित हुए हैं उनका इस्तीफा लिया है एेसे में तेजस्वी से यही उम्मीद उन्होंने की कि वो खुद ही इस्तीफा दे दें।

लेकिन राजद इसपर अड़ा हुआ है कि तेजस्वी इस्तीफा नहीं देंगे। इस मामले ने इतना तूल पकड़ लिया है कि जदयू और राजद में ठन गई है और महागठबंधन के लिए मुश्किलें लगातार  बढ़ती जा रही हैं। दोनों दलों के नेताओं के बीच जुबानी तल्खी जारी है। एेसे में जदयू की चाहत है कि नीतीश राजद से नाता तोड़ लें तो वहीं कांग्रेस और राजद किसी भी हाल में महागठबंधन टूटने नहीं देना चाहते। इसे लेकर हालांकि जदयू में भी एकमत नहीं है। 

By
Kajal Kumari 

Source Article from http://www.jagran.com/bihar/patna-city-16382981.html

Leave a Reply

Your email address will not be published.