गया में यज्ञस्थल के पास हत्या के बाद बवाल, आक्रोशित लोगों ने की आगजनी

गया में यज्ञस्थल के पास हत्या के बाद बवाल, आक्रोशित लोगों ने की आगजनीगया में यज्ञस्थल के पास हत्या के बाद बवाल, आक्रोशित लोगों ने की आगजनी

गया [जेएनएन]। जिला मुख्यालय गया से लगभग सौ किमी दूर डुमरिया थाना के मांडर यज्ञ स्थल पर शुक्रवार की आधी रात खूनी खेल खेला गया। वर्षों से चल रहे भूमि विवाद में यज्ञस्थल पर ही विकास सिंह की रॉड और धारदार हथियार से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई।

मृतक विकास पिपरा गांव के चर्चित मैन सिंह के पुत्र थे। वारदात के बाद यज्ञस्थल पर कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया। अस्थाई रूप से लगी दुकानों को तोडफ़ोड़ कर आग के हवाले कर दिया गया। हत्या के विरोध में सुबह से डुमरिया जाने वाली सड़क को जाम कर दिया गया। दोपहर बाद जिलाधिकारी कुमार रवि और एसएसपी गरिमा मलिक अधिकारियों के साथ घटना स्थल पहुंचीं। इसके बाद स्थिति नियंत्रित की गई। 

शुक्रवार की आधी रात को मांडर गांव में नौ दिवसीय यज्ञ चल रहा था। इसी दौरान पिपरा के विकास सिंह यज्ञ स्थल पर पहुंचे तो वहां पर मौजूद महावीर महतो से विवाद हो गया। इसी क्रम में एक गोली चली, जो महावीर महतो की पोती गुडिय़ा के पैर में लग गई। गोली लगने के बाद यज्ञस्थल ‘रणभूमि’ में तब्दील हो गया। देखते-देखते लोग विकास सिंह पर टूट पड़े।

लोहे के रॉड और पारंपरिक हथियार से विकास सिंह की इतनी पिटाई की गई कि घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई। यह खबर जब गांव पहुंची तो विकास सिंह के समर्थक यज्ञस्थल पर पहुंचे और वहां तोडफ़ोड़ और आगजनी की।

विकास सिंह की जीप सहित ट्रैक्टर, मोटरसाइकिल, साइकिल और कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया। हो-हंगामा और तोडफ़ोड़ के बीच रात बीती। सुबह में विकास सिंह के समर्थकों ने डुमरिया-इमामगंज मुख्यमार्ग को जाम कर दिया।

पुलिस और प्रशासन के वरीय अधिकारियों के पहुंचने के बाद जाम हटाया गया और शव को पोस्टमार्टम के लिए गया के मगध मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया। उधर गोली से घायल गुडिय़ा को तत्काल प्राथमिक चिकित्सा के बाद गया के मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया। 

यह भी पढ़ें: दूसरे के बदले बैठ कर दे रहे थे परीक्षा, पहुंच गये जेल

शनिवार को दोपहर बाद जिलाधिकारी कुमार रवि और एसएसपी गरिमा मलिक घटनास्थल पर पहुंचीं। दोनों अधिकारियों ने घटनास्थल का मुआयना कर हत्यारों को शीघ्र गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया। उधर गांव में तनाव को देखते हुए उपविकास आयुक्त व सिटी एसपी को तत्काल वहां कैंप करने के निर्देश दिया गया है। गांव की स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है।

यह भी पढ़ें: कुख्यात बबलू दूबे की हत्या उसके शूटर ने ही की, कहा-पैसे के लिए मार डाला

Source Article from http://www.jagran.com/bihar/gaya-16019958.html

Leave a Reply

Your email address will not be published.